एक ही प्रोडक्ट के लिए औरतें चुका रही हैं पुरुषों से ज्यादा कीमत, यहां किया गया Pink Tax बैन

क्या कभी आपने महिलाओं और पुरुषों के उत्पादों पर ध्यान दिया है! 

 चाहे वो क्रीम हो या शैंपू, या फिर कपडे़- एक ही प्रोडक्ट के लिए महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा दाम चुकाना होता है. 

इसलिए नहीं कि उनमें क्वालिटी होती है, बल्कि इसलिए कि उनपर महिलाओं के लिए ठप्पा लगा होता है. इसे पिंक टैक्स कहते हैं. 

ये कोई असल टैक्स नहीं, बल्कि वो कीमत है जो औरतें अपने औरत होने की वजह से भर रही हैं. 

 इसमें किसी खास प्रोडक्ट पर अगर For Women लिख दिया जाए तो कीमत ज्यादा हो जाएगी. 

अगर वो क्रीम है तो बताया जाएगा कि उसमें हार्मफुल केमिकल्स नहीं हैं ताकि महिलाओं की त्वचा मुलायम बनी रहे. 

यहां तक कि किसी खास सर्विस के भी महिलाओं को ज्यादा और उसी सर्विस पर पुरुषों को कम पैसे देने होते हैं.