Top 10 Moral Stories In Hindi | Best Moral Stories in Hindi for Kids

इस लेख में हम आपको top 10 moral stories in hindi बताने जा रहें है जिनको पढ़कर आपको अच्छी शिक्षा और नैतिकता का बोध होगा। ये moral stories for Kids काफी popular भी है और हो सकता है कि हममें से कई लोगों ने इनको पहले से पढ़ा हो। पर इन moral stories को पढ़कर आप काफी ज्ञानवर्धक बाते जान सकेंगे। तो चलिए शुरू करते है आज की top 10 moral stories in hindi

इन top 10 moral stories in hindi for Kids को पढ़ना और समझना काफी आसान होता है। moral stories in hindi का मतलब है लघु शिक्षाप्रद कहानियाँ। आपको moral stories in hindi पढ़ने के बाद बहुत सारी ऐसी बाते पता चलेंगी जिनसे आपकी कोई समस्या हल हो सकती है।

Table of Contents

1. प्यासा कौआ- बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी- Top 10 Moral Stories In Hindi

 प्यासा कौआ- बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी- Top 10 Moral Stories In Hindi
img source: goggle

एक समय की बात है। कड़कड़ाती धूप में एक प्यासा कौआ इधर उधर पानी की खोज में तड़प रहा था।

अत्यधिक प्यास के कारण उसे ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसका अन्तिम समय आ गया है।

तभी उसकी नजर पास के एक पेड़ के नीचे रखे घड़े पर पड़ी। उसे देखकर कौए के जान में जान आई।

वह उड़कर जब उसके पास पहुँचा तो उसने देखा कि पानी घड़े में बहुत कम था जिसकी वजह से वह अपनी चोंच से पानी तक पहुँच नही पा रहा था।

कौए ने कई बार प्रयास किया पर हर बार वह असफल रहा।

कौआ घड़े के पास थककर बैठ गया। तभी उसकी नजर पास पड़े कंकड़ों पर पड़ी। अब उसको एक तरकीब सूझी।

उसने विचार किया कि यदि वह एक एक करके कंकड़ों को घड़े में डालेगा तो पानी धीरे-धीरे ऊपर आ जायेगा और वह उसे पी कर अपनी प्यास बुझा लेगा।

निरंतर प्रयास और कड़ी मेहनत करके वह इतने कंकड़ घड़े में डाल देता है कि पानी ऊपर आता है और वह उसे पीकर अपनी जान बचा लेता है।

Top 10 Moral Stories In Hindi- प्यासा कौआ कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि परिश्रम ही सफलता की कुँजी की है। निरंतर प्रयास और मेहनत से असंभव लगने वाले लक्ष्य को भी हासिल किया जा सकता है।

2. सोने का अण्डा- बच्चो के लिए बेस्ट मोरल स्टोरी

सोने का अण्डा
img source: goggle

रामपुर गाँव में एक गरीब किसान रहता था। वह रोज की ही तरह अपने खेतों से काम करके घर वापस आ रहा था। 

उसे रास्ते में एक घायल मुर्गी दिखाई देती है जिसके काफी खून निकल रहा था। गरीब किसान ने उसके देखते ही उठाया और घर ले जाकर उसकी मरहम पट्टी की। कुछ ही दिनों में मुर्गी पूरी तरह से स्वस्थ हो गयी।

मुर्गी ने गरीब किसान से कहा कि तुमने मेरी इतनी सेवा की है इसके बदले में मै तुम्हें रोज एक सोने का अण्डा दूंगी।

मुर्गी अपने कहे अनुसार रोज सुबह एक सोने का अण्डा देती जिसे गरीब किसान बाजार ले जाकर अच्छे दामों में बेच दिया करता था।

देखते ही देखते गरीब किसान के पास काफी पैसे हो गये, अब वह बहुत अमीर हो गया था। 

एक दिन उसने सोचा कि मुझे रोज मुर्गी को खाना देना होता है, उसकी सेवा करनी पड़ती है तब एक सिर्फ एक अण्डा मुझे मिल पाता है क्यों न मैं इसके पेट से सारे अण्डे एक साथ निकालकर बेच दूं।

ऐसा सोचकर उसने मुर्गी का पेट चाकू से काट दिया परन्तु उसे एक भी अण्डा नही मिला और जो एक अण्डा रोज मिलता था वह उससे भी हाथ धो बैठा।

तो Top 10 Moral Stories In Hindiसोने का अण्डा कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि ज्यादा हमें ज्यादा लालच नहीं करना चाहिए। लालच में कई बार हम खुद का ही नुकसान कर बैठते हैं।

3. अंगूर खट्टे हैं- हिन्दी में नैतिक कहानियाँ- moral stories in hindi

अंगूर खट्टे हैं
img source: goggle

एक दिन भरी दोपहर में एक लालची लोमड़ी इधर उधर शिकार की तलाश में घूम रही थी। वहांं जंगलों के बीच उसे एक अंगूर के गुच्छों की बेल दिखाई दी। इतने अंगूर एक साथ देखकर लालची लोमड़ी के मुँह में पानी आ गया।

लोमड़ी जब उन स्वादिष्ट अंगूरों को खाने के लिए लपकी तो वह उन तक पहुँच ही नही पाई। उसने कई बार छलांग लगाई पर वह उन स्वादिष्ट अंगूरों तक ना पहुँच सकी। 

उसने एक तरकीब लगाई। वह काफी दूर से दौड़कर आयी और एक लम्बी छलांग मार दी पर इस बार भी वह उन अंगूरो तक नहीं पहुँच पाती है।

अंततः जब कई बार प्रयास करने के बाद भी उसे अंगूर नही मिले तो उसने यह कह कर खुद को समझा लिया कि अंगूर खट्टे हैं और इन्हे खाकर कोई फायदा नही है।

अब थक हार कर लोमड़ी अपने घर की ओर चली जाती है।

तो Top 10 Moral Stories In Hindiअंगूर खट्टे हैं कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि जब किसी मूर्ख इंसान को किसी वस्तु की प्राप्ति नहीं होती है तो वह अपनी कमजोरी छिपाने के लिए उस वस्तु पर ही दोष लगा देता है।

4. दो बिल्लियाँ और बंदर-बच्चो की बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी- Best Moral Stories in Hindi for Kids

दो बिल्लियाँ और बंदर
img source: goggle

दो बिल्लियाँ आपस में बहुत अच्छी दोस्त थी। वे एक साथ खेलती, बाते करती तथा भोजन की तलाश में जाया करती थी।

एक दिन भोजन की तलाश में काफी देर तक भटकने के बाद सिर्फ उन्हे एक रोटी ही दिखाई दी जिस पर एक बिल्ली ने झपट्टा मारा और खाने के लिए मुँह में डालने ही जा रही थी।

तभी दूसरी बिल्ली उसे टोककर बोलती है “अरे! तुम अकेले कैसे इस रोटी को खा सकती हो? हम दोनों ने साथ में ही इस रोटी को देखा है इसलिए हमें इसे बाँटकर खाना चाहिए।

पहली बिल्ली ने यह सुनकर रोटी एक टुकड़ा तोड़कर दूसरी बिल्ली को दिया लेकिन वह टुकड़ा छोटा था जिसे देखकर उसे बुरा लगा और उसने कहा “यह टुकड़ा तो काफी छोटा है तुम मेरे साथ बेइमानी कर रही हो, तुम्हें रोटी के बराबर टुकड़े करने चाहिए।

इस बात पर दोनो में बहस हो गई और झगड़ा होने लगा। उसी समय वहां से मोनू बंदर गुजर रहा था। मोनू बंदर ने दोनों के लड़ने का कारण पूछा तो उन्होने सब कुछ बता दिया।

मोनू बंदर बोला “इस बात पर लड़ने की जरूरत नहीं है तुम कहो तो मेरे पास एक तराजू है जिससे मै इस रोटी को दो बराबर हिस्सों में बाँट दूँ।”

बिल्लियां मान गयी, बंदर ने तराजू निकाला और एक एक टुकड़ा दोनो ओर रख दिया। भूखी बिल्लियाँ बड़ी आस से देख रही थी।

बंदर ने जान बूझकर एक तरफ बड़ा टुकड़ा रखा और दूसरी तरफ छोटा। फिर बंदर बोला “अरे यह क्या? एक टुकड़ा दूसरे से बड़ा है, चलो मै इसको बराबर कर देता हूँ” यह कहकर वह रोटी के बड़े टुकड़े को तोड़कर खा लेता है।

फिर दूसरा टुकड़ा पहले से बड़ा हो जाता है तो बंदर उसे भी बराबर करने के लिए बड़े टुकड़े से कुछ हिस्सा तोड़कर खा लेता है। 

इस तरह यह सिलसला चल जाता है और बंदर बराबर करने के लिए बड़ी रोटी को थोड़ा तोड़कर खा लेता है। 

जब रोटी के बिल्कुल छोटे-छोटे टुकड़े बचते है तो बिल्लियाँ घबराकर कहती है “अरे बंदर भाई, तुम क्यो परेशान हो रहे हो लाओ इस रोटी को हम लोग आपस में ही बांट लेंगे।

बंदर बोला “ठीक है, लेकिन अब तक जो मेहनत मैने की है उसका मेहनताना तो लगेगा ही ना” इतना कहकर वह बचे हुए रोटी के टुकड़ो को भी खा जाता है।

बिल्लियाँ देखती रह जाती है अब उन्हे एहसास होता है कि हम दो के बीच की फूट  का लाभ तीसरा व्यक्ति उठा ले गया। उन्होने निर्णय किया कि अब से वह झगड़ा नही करेंगी और साथ में ही रहेंगी।

तो Top 10 Moral Stories In Hindiदो बिल्लियाँ और बंदर की कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि मिल जुल कर रहें अन्यथा आपस की फूट में फायदा कोई और ही उठा ले जाता है।

5. कछुआ और खरगोश-बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी- Top 10 Moral Stories In Hindi

 कछुआ और खरगोश-बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी-
img source: goggle

बहुत समय पहले की बात है एक जंगल में खरगोश और कछुआ दो दोस्त रहते थे। वे दोनो गहरे दोस्त थे परन्तु खरगोश को अपनी गति पर बहुत गर्व था और वह अक्सर कछुए को इस बात के लिए छेड़ता था कि कछुए की गति बहुत कम है।

एक दिन क्रोधित होकर कछुए ने खरगोश से कहा- “आइये, हम दोनो एक रेस करते है और देख ही लेते है कि किसकी गति ज्यादा है”।  खरगोश कछुए की इस बात पर जोर से हँसा और बोला “तुम मुझसे जीत ही नही सकते, तुम्हरी चाल बहुत धीमी है। चलो रेस शुरू करते है।”

रेस शुरू हुई तो खरगोश लम्बे कदम रखकर दौड़ने लगा जबकि कछुआ धीमे- धीमे चलने लगा।

थोड़ी दूर तक दौड़ने के बाद खरगोश ने सोचा अब मैं काफी आगे आ गया हूँ क्यों न यहां पेड़ के नीचे थोड़ा आराम कर लूँ। आराम करते करते कब उसे नींद आ गयी उसे पता ही नही चला।

इधर, कछुआ धीरे-धीरे लगातार चलता रहता है और रास्ते में वह देखता है कि खरगोश सो रहा है। वह उसे जागाता नहीं और धीरे-धीरे निरंतर चलते हुए फिनिश लाइन पर पहुँच जाता है।

जब खरगोश की नींद खुलती है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। खरगोश तेजी से दौड़ता हुआ फिनिश लाइन की ओर जाता है। वहाँ पर कछुए को पहले से पहुँचा हुआ देखकर वह काफी शर्मिंदा होता है। वह काफी खेद महसूस करता है क्योंकि एक कछुआ खरगोश से जीत जाता है। 

खरगोश की गति तेज थी लेकिन कछुए का निरंतर प्रयास और इच्छा शक्ति अधिक थी।

तो Top 10 Moral Stories In Hindiकछुआ और खरगोश की कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि कभी भी हार मत मानों, निरंतर प्रयास करते रहो भले ही उनकी गति धीमी हो।

6. एकता में बल- moral stories in hindi

एक गांव में एक किसान रहता था। उसके चार पुत्र थे, सभी ईमानदार और मेहनती थी। बस एक समस्या यह थी कि उनकी आपस में बनती नही थी। सभी एक दूसरे से छोटी मोटी बातो पर लड़ते रहते थे। अपने पुत्रों के बीच होने वाली लड़ाई से किसान बहुत परेशान था। उसने कई बार इनको आपस में मिलाने की कोशिश की पर असफल रहा।

धीरे-धीरे किसान बूढ़ा हो चला, लेकिन उसके लड़को के बीच लड़ाई का सिलसिला वैसे ही चलता रहा। किसान ने अपने लड़को को मिलाने के लिए एक तरकीब बनाई। उसने अपने पुत्रों को एक साथ बुलाया। 

पिता का अन्तिम समय देखते हुए चारो पुत्र एक साथ उसके पास पहुँचे।

सभी पुत्रों ने पिता से उन्हे बुलाने का कारण पूछाँ तो किसान बोला, “आज मैं तुम सब को एक काम देने जा रहा हूँ और मैं देखना चाहता हूँ कि कौन इस काम को भली भांति कर लेगा।

किसान ने बड़े लड़के से कई सारी लकड़ियाँ लाने को बोला तथा छोटे लड़के से एक मजबूत रस्सी लाने को कहा। लड़के ईमानदार और मेहनती थे, पिता जी की आज्ञा मानते हुए वे लकड़ी और रस्सी लेने निकल जाते है।

जब बड़ा लड़का लकड़ियाँ लेकर आ जाता है तो किसान दूसरे बेटे से इनका गट्ठर बनाने को कहता है। तब तक छोटा लड़का रस्सी लेकर आ जाता है तो किसान तीसरे बेटे से उस गट्ठर को रस्सी से बाँध देने को कहता है। लड़का उनकी आज्ञा का पालन करता है।

बड़ा लड़का कहता है- पिता जी, अब हमें क्या करना है। इस पर किसान मुस्कराते हुए बोला- तुम सभी में से कौन इस गट्ठर को अपने बल से तोड़ सकता है।

तो एक-एक करके सभी लड़को ने कहा यह तो बहुत ही आसान काम है इसे तो मै चुटकी बजाते ही कर दूंगा।

फिर क्या था अपनी बात साबित करने के लिए वो आपस में झगड़ने लगे कि इसे मै ही तोड़ूगा। किसान बोला मैने तुम्हे यहाँ झगड़ने के लिए नहीं बुलाया है। तुम लोगो को बारी-बारी से मौका दिया जायेगा। सबसे पहले बड़े लड़के को मौका मिला।

उसने भरसक कोशिश की परन्तु वह लकड़ी के उस गट्ठर को तोड़ नहीं पाया। इसी तरह से अन्य लड़के भी उस गट्ठर को तोड़ नहीं पाते है।

छोटा लड़का बोला- पिता जी, यह काम तो असंभव है। किसान मुस्कराते हुए लकड़ी का गट्ठर खोलता है और लकड़ियाँ अलग-अलग कर देता है। 

किसान कहता है- अब इन लकड़ियों को कौन तोड़ेगा। तो सभी उन अलग-अलग लकड़ियों को तोड़ लेते हैं। 

किसान बोला- बच्चो आप चारो इन लकड़ियों की तरह हो, जब तक साथ रहोगे तो तुम्हे कोई नुकसान नहीं पहुँचा सकता है परन्तु यदि तुम अकेले अकेले लड़ते झगड़ते रहोगे तो इन अकेली लकड़ियों की तरह ही टूट जाओगे।

Top 10 Moral Stories In Hindiएकता में बल कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि एकता में बड़ी ताकत होती है। अगर हम मिल जुल कर एक साथ रहें तो कोई भी हमें नुकसान नहीं पहुँचा सकता है।

7. चिड़ियाँ की कहानी- बच्चो के लिए बेस्ट मोरल स्टोरी- Top 10 Moral Stories In Hindi For Kids

Top 10 Moral
img source: goggle

सुंदरवन के जंगलो में सभी जानवर मिलजुल कर हँसी खुशी रहते थे। उस जंगल के एक पेड़ पर रानी चिड़िया भी रहती थी। 

एक बार जंगल में बहुत भीषण आग लग जाती है। आग इतनी भीषण थी कि जंगल के राजा मंगलू शेर वहां से भागने की योजना बनाने लगा और सभी को यही राय देता है कि जंगल छोड़कर भाग जाओ।

यह सुनकर सभी जानवर पास के जंगलो की ओर भागने लगते है। एक बाज उड़कर जा रहा था कि उसने देखा कि रानी चिड़िया पास के तालाब से अपनी चोच भर पानी लाती और आग बुझाने के लिए उस पर डाल देती।

यह देखकर बाज रानी चिड़िया से बोला “अरे रानी बहन! तुम्हारे इस चोंच में कितना पानी आयेगा भला। इससे जंगल की आग नही बुझेगी।”

इस पर रानी चिड़िया ने बड़ी सरलता से जवाब दिया “मुझे नही पता मेरी एक चोंच पानी से ये आग बुझ पाएगी या नही पर जब भी इस आग की बात चलेगी मेरी गिनती आग बुझाने वालो में होगी और आपकी भागने वालो में।”

तो Top 10 Moral Stories In Hindi- हमें इस कहानी से यह शिक्षा मिलती है कि यह मायने नही रखता आप कितने बड़े या छोटे हैं बल्कि मायने यह रखता है कि आपने क्या काम किया, कब किया, कैसे किया। इससे आपकी नियति, हौसले और जुनून का पता चलता है।

8. एकता में शक्ति-बेस्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी- Top 10 Moral Stories In Hindi

महेश एक व्यापारी है वह कबूतरों को जाल में फसाकर पकड़ता तथा उन्हे बाजार ले जाकर बेचने का काम करता था। उसे कबूतरों पर दया नही आती थी।

एक बार वह रामू काका के खेत में कबूतरों को पकड़ने के लिए जाल लगाता है और जमीन पर ढ़ेर सारे चावल के दाने बिखेर देता है।

आसमान में उड़ते कबूतरो का एक झुण्ड जब चावल के ढ़ेर सारे दाने देखता है तो उन्हे लालच आता है। उस झुण्ड का सरदार कहता है कि जरूर इसमें कोई चाल होगी नहीं तो इतने चावल के दाने कैसे एक जगह पड़े रह सकते है।

अन्य साथी सरदार की बात को नजरअंदाज करके नीचे उतरते है, साथ होने की वजह से सरदार भी नीचे दाने खाने के लिए उतर आता है।

पेड़ के पीछे छुपा व्यापारी सही समय पर जाल फेंक देता है और सारे कबूतर उसमें फस जाते है।

इसपर एक कबूतर कहता है कि सरदार नें सही कहा था. यह एक साजिश थी। दूसरा कबूतर कहता है कि अब हम सबको ये व्यापारी पिंजड़े में बन्द करके बेच देगा।

अब सरदार को एक तरकीब सूझती है वह कहता है कि यदि व्यापारी के आने से पहले हम सब एक साथ उड़े तो हम जाल लेकर उड़ जायेंगे और फिर आजाद हो जायेंगे।

कबूतरों ने ऐसा ही किया, वे सब एक साथ उड़े और देखते ही देखते व्यापारी की आँखों के सामने ही पूरा जाल ले कर उड़ गये।

तो Top 10 Moral Stories In Hindiएकता में शक्ति कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि यदि एक साथ मिलकर काम करने से हमारी शक्ति बहुत बढ़ जाती है। अतः हमें एक साथ मिलकर काम करने चाहिए।

9. चिड़ियाँ का घोंसला- बच्चो के लिए बेस्ट मोरल स्टोरी- Top 10 Moral Stories In Hindi For Kids

चिड़ियाँ का घोंसला
img source: goggle

पिंकी चिड़ियाँ एक खेत में कई दिनों से अपने घोंसले में रहती थी। उसका घोसला पुराना हो चुका था और सर्दियां भी आने वाली थी यह सोचकर पिंकी ने नया घोसला बनाने को सोचा।

उसने एक दिन बहुत मेहनत की, एक-एक तिनका चुनकर बड़ी मेहनत से उसने पास के ही खेत में नया घोसला बनाया। नये घोसले में जाने से पहले उसने सोचा- चलो आज की रात यही पुराने घोसले में बिता लेती हूँ, कल से नये घोसले में रहूंगी।

परन्तु यह क्या! जब अगली सुबह वह अपने नये घोसले को देखती है तो उसकी आँखे फटी की फटी रह जाती है। एक बाज उसके नए घोसले के चीथड़े उड़ा कर चला जाता है।

वह काफी मायूस हुई, उसकी आँखे भर आयी थी। उसने बड़ी मेहनत से यह घोसला बनाया था और किसी ने उसे रातो रात उजाड़ दिया।

उसने गहरी सांस ली, हल्का सा मुस्कराई और अगले ही पल कुछ अजीब हुआ। वह सब कुछ भुलाकर फिर से एक-एक तिनका बिनकर लाने लगी। और सुबह से शाम तक कड़ी मेहनत करने के बाद वह दुबारा अपना आशियाना बना लेती है और खुशी मन से उसमें रहने लगती है।

तो Top 10 Moral Stories In Hindi की इस कहानी से यह शिक्षा मिलती है कि यदि हमारे साथ कुछ बुरा होता है तो हम शिकायत करते है, दुनिया से उसका रोना रोते है। लोगो को भी कोसते है और हिम्मत हार जाते है। ऐसा करने की बजाय हमें दुबारा बिना समय गवाँए दुबारा उससे अधिक मेहनत से उस काम को करने में लग जाना चाहिए।

10. मोटा मुर्गा- हिन्दी में नैतिक कहानियाँ- moral stories in hindi

मोटा मुर्गा
img source: goggle

एक किसान के पास दो बैल थे। एक का नाम रत्ना और दूसरे का नाम पन्ना था। वे दोनो बैल मिलकर किसान के लिए बहुत मेहनत करते थे। वे खेत में हल चलाते थे, बैलगाड़ी खींचकर बाजार ले जाते थे।  किसान भी उनकी अच्छी देखभाल करता था, उन्हे खाना खिलाता था परन्तु उनसे अपने खेतों में खूब काम भी करवाता था। दोनो बैल सारा दिन काम करके थकहार कर घर लौटते थे और खा पी कर सो जाते थे।

एक दिन जब वो दोनो बैल खेतों से काम करके वापस आते है तो उन्हे अपने घर में ही एक मुर्गा दिखाई देता है। किसान उसे चना, दाना तथा अच्छी चीजे खाने को देता था। वह खाता पीता और दिन भर घूमता रहता था। खा-खाकर वह काफी मोटा हो चुका था।

यह सब देखकर पन्ना बैल रत्ना से बोला हम दिन भर खेतों में काम करते है, कड़ी मेहनत करने पर भी मालिक हमें इतना अच्छा खाना नहीं खिलाता। जबकि मुर्गा कुछ करता भी नहीं और अच्छे से अच्छा खाना खाता है।

इस बात पर दूसरा बैल बोला ऐसा मत सोचो भाई। किसान हमें भी अच्छी घास भूसा और ठण्डा पानी  खाने पीने को देते है। वह हमारे विश्राम के लिए सूखी घास भी बिछाता और साफ सफाई रखता है। वह हमारा भी खूब ध्यान रखते है। हमें जितना मिल रहा है उसी में खुश और संतुष्ट रहना चाहिए। तुम देख लेना कि किसान इस मुर्गे को किसी कारणवश ही खिला पिला कर मोटा कर रहा है।

एक दिन दोनों बैलों ने देखा कि किसान अपने साथी के साथ बहुत बढिया खाना खा रहा है। परन्तु मोटा मुर्गा उन्हे कहीं दिखाई नहीं दे रहा था। तब उन दोनो ने जाना कि किसान ने मोटे मुर्गे को अपने साथी के भोजन के लिए काट दिया है। 

तो Top 10 Moral Stories In Hindi की इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि जो हमारे पास संसाधन उपलब्ध है हमें उन्ही में खुश और संतुष्ट रहना चाहिए। 

ये भी पढ़े - Top 10 Haunted Places in India in Hindi

तो दोस्तो, आपको ये Top 10 Moral Stories In Hindi का लेख कैसा लगा। हम आशा करते है कि निश्चित रूप से यह आपको पसंद आया होगा। हिन्दी में नैतिक कहानियाँ- moral stories in hindi को आप अपने दोस्तो को share जरूर करे। यदि आपके घर परिवार में भी बच्चे है तो इन top 10 moral stories in hindi for Kids को उन्हे भी share करे तथा पढ़ाये।

Moral Stories In Hindi: FAQs

कहानियाँ महत्वपूर्ण क्यों होती है?

कहानियाँ ज्ञानवर्धक और रोचक होती है और यह हमे ऐसे टाइम में सुनाई जाती है ताकि हमारा ज्यादा से ज्यादा विकास हो। ये हमें नई- नई सीख देती है जो जिन्दगी भर काम आ सकती है।

कहानियाँ कितने प्रकार की होती हैं?

एक रिसर्च में दावा किया गया है कि कहानियाँ सिर्फ तीन प्रकार की होती हैं जो इस प्रकार है-
1. सुखद अंत वाली
2. दुखद अंत वाली
3. त्रासदी वाली

Short Story कितने लाइन की होती है?

एक Short Story 10 से 12 लाइन की होती है और उसमें एक भावार्थ होना चाहिए।

एक अच्छी कहानी में क्या- क्या होना चाहिए?

एक अच्छी कहानी में शीर्षक, प्रस्तावना या introduction, मुख्य कंटेट और निष्कर्ष होना चाहिए, साथ ही कहानी engaging होनी चाहिए।

क्या हर कहानी में एक सीख होती है?

नहीं, हर कहानी ऐसी नही होती है जिसमें कोई सीख हो। मोरल स्टोरीज में एक सीख जरूर होती है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4.8 / 5. Vote count: 969

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published.